Saturday , 18 November 2017
Home / Cities / Jaipur / आनंदपाल एनकाउंटर मामलाः सांवराद उपद्रव का शिकार कौन है लालचंद? गहराया सवाल

आनंदपाल एनकाउंटर मामलाः सांवराद उपद्रव का शिकार कौन है लालचंद? गहराया सवाल

जयपुर।

सांवराद उपद्रव में मौत का शिकार हुए लालचंद शर्मा का मामला और गहरा गया है। उसका शव एसएमएस अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया गया है। नागौर पुलिस उसके परिवार को तलाशने रोहतक गई थी लेकिन बेरंग लौट आई है। ऐसे में सवाल गहरा रहा है कि मरने से पहले उसने अपना जो नाम बताया, वह सही है या नहीं।

कथित लालचन्द उपद्रव के घायलों में शामिल था। स्थानीय अस्पताल में इलाज के दौरान उसने अपना नाम रोहतक निवासी लालचंद शर्मा पुत्र मोहनलाल बताया था। वहां से उसे जयपुर रैफर किया, लेकिन जोबनेर के पास वह बेहोश हो गया था। अस्पताल पहुंचे-पहुंचते उसकी मौत हो गई थी।

जारी किया पोस्टर

कथित लालचंद को लेकर जो जानकारी सामने आई, उसके आधार पर पुलिस टीम रोहतक भेजी गई लेकिन तस्दीक नहीं हो पाई। पुलिस आश्वस्त नहीं है कि मृतक का नाम लालचंद ही है। परिजनों की तलाश के लिए नागौर पुलिस ने पोस्टर जारी किया है, जो हरियाणा भी भेजा गया है। अजमेर पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल ने बताया कि रोहतक में वहां के आईजी से भी बात की गई है।

7 घंटे कर्फ्यू में ढील

आनंदपाल के अंतिम संस्कार के बाद चौथे दिन भी सांवराद में कर्फ्यू लगा रहा। इस दौरान शांति रही। सुबह 8 से 11 व शाम 4 से रात 8 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई। हालात भी सामान्य रहे। कर्फ्यू  के चलते गांव में किसी भी बाहरी व्यक्ति को प्रवेश नहीं दिया गया। वहीं हालात पर नजर रखने के लिए एएसपी ज्ञानचन्द यादव, उपखण्ड अधिकारी उत्तम सिंह, तहसीलदार आदूराम मेघवाल मौजूद रहे। पुलिस, एसटीएफ, आरएसी के जवान भी तैनात रहे। गांव में सुबह आठ से 11 बजे तक ढील दी गई। ताकि लोग रोजमर्रा के काम कर सके। वहीं शाम को पुन: चार से रात आठ बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई।

Let’s block ads! (Why?)


Source link

Check Also

हकीकत में थीं रानी पद्मावती? क्या है फिल्म से जुड़े 5 विवादों के पीछे का सच?

[unable to retrieve full-text content] संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती रिलीज से पहले विवादों …

Leave a Reply